कभी तुम्हारी याद आती है तो कभी तुम्हारे ख्वाब आते हैं , मुझे सताने के तुम्हे तरीक़े तो बेहिसाब आते है|

प्यार करना सिखा है….नफरतो का कोई ठौर नही,बस तु ही तु है इस दिल मे दूसरा कोई और नही.

कौन कहता है हमशकल नहीं होते , देख मेरा दिल तेरे दिल से कितना मिलता है| इतना प्यार तो मैंने खुद से भी नहीं किया ,जितना मुझे तुमसे हो गया है|

ईश्क का रंग और भी गुलज़ार हो जाता है जब दो शायरो को एक दूसरे से प्यार हो जाता है| लोग हमे पागल कहते है, उन्हें क्या पता की हम प्यार में है !!

मैं दिनभर ना जाने कितनों चेहरों से रूबरू होता हूँ पर पता नहीं रात को ख्याल सिर्फ तुम्हारा ही क्यों आता है| छुपे छुपे से रहते हैं सरेआम नहीं हुआ करते, कुछ रिश्ते बस एहसास होते हैं उनके नाम नहीं हुआ करते.

क्यों मदहोश करती है मुझे मौजूदगी तेरी , कहीं मुझे तुमसे प्यार तो नहीं हो गया ? मुहब्बत में झुकना कोई अजीब बात नहीं; चमकता सूरज भी तो ढल जाता है चाँद के लिए।